चुपके चुपके रात दिन / chupke

चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है
हम को अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

तुझ से मिलते ही वो कुछ बेबाक हो जाना मेरा
और तेरा दांतों में वो उंगली दबाना याद है
हम को अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

चोरी-चोरी हम से तुम आ कर मिले थे जिस जगह
मुद्दतें गुज़रीं पर अब तक वो ठिकाना याद है
हम को अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

ख़ैंच लेना वो मेरा परदे का कोना दफ़्फ़तन
और दुपट्टे से तेरा वो मुंह छुपाना याद है
हम को अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

दोपहर की धुप में मेरे बुलाने के लिए
दोपहर की धुप में मेरे बुलाने के लिए
वो तेरा कोठे पे नंगे पांव आना याद है
हम को अब तक आशिक़ी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है

song title :- chupke chupke raat din
singer :- Gulam Ali

Rate this post
Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *